Kash, Pankh Hamaare Hote

Priya Sharma

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
220.00 198 +


  • Year: 2017

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-81-934394-8-7

डाॅ. प्रिया शर्मा की ये कविताएँ बच्चों के सरल चित्त पर समय की चेतावनियाँ लाल-हरे रंग में झिलमिलाती चलने वाली हँसती-बोलती सी कविताएँ हैं। ‘फास्ट फूड’ या ‘ब्यूटी पार्लर’ या ‘कविताएँ न पढ़ने की प्रवृत्ति’ बाल जगत् में भी प्रवेश पा गए हैं। एक से एक रोचक विज्ञापन मायानगर के ऐयार की तरह टीवी पर आते हैं और फास्ट फूड,  शृंगार प्रसाध्न आदि के प्रति बाल-मन में भी ऐसा आकर्षण भर देते हैं कि घर का पौष्टिक और संतुलित आहार उन्हें अखाद्य लगने लगता है और नहाया-धोया, सादा-सा चेहरा भी ‘ब्यूटी पार्लर’ का प्रत्याशी! गुड़ियानुमा वे ही मम्मियाँ अच्छी लगने लगती हैं जो ‘सुपर बायर्स’ हों-महाखरीदार-रंगीन पैकेटों में जहर खरीदकर घर लाने वाले। परीकथा के जंगलों में भी उन्हें ‘ब्यूटी पार्लर’ चाहिए।
आंतरिक सौंदर्य, शांति, सौहार्द और प्रेम से भरे सहकारितामूलक जीवन की प्रेरणा सहज ही मन में जगाने वाले ये बालगीत इसलिए भी महत्त्वपूर्ण हैं कि पर्यावरण की चुनौतियों का सामना करते हुए पशु-पक्षी और वनस्पति जगत् से तादात्म्य रखने की उमंग ये मन में भरते हैं। पशु-पक्षी, वनस्पति और बच्चे-ये ही युद्ध और आतंक की छाया में पल रहे इस अतिशय भौतिक युद्ध का सच्चा वैकल्पिक प्रतिपक्ष रचेंगे इन कविताओं के दम से। 
-अनामिका

Priya Sharma

डाॅ. प्रिया शर्मा
शिक्षा: एम. ए. पी-एच. डी.
प्रकाशित कृतियाँ: मास्टर ते जगतो (पुरस्कृत) 2008, गुरु नानक देव की धर्म साधना 2009, बदनामी की छाँव (अनुवाद) 2009, चंडी चरित्र 2013, खुशी के आँसू (अनुवाद) 2013
डाॅक्यूमेंटरी फिल्म: साहित्य अकादेमी, नई दिल्ली द्वारा निर्मित डाॅक्यूमेंटरी फिल्म में अनुवाद एवं उपशीर्षक तथा चंबा अचंभा नामक पुस्तक में आठ गीतों का संयोजन और लैंग्वेज एक्सपर्ट की भूमिका
बाल पुस्तकें (सह लेखक): स्मृति हिंदी पाठ्यपुस्तक (एक से पाँच कक्षा तक), युग हिंदी पाठमाला 
व्याकरण (सह लेखक): स्मृति हिंदी व्याकरण एवं रचना कोर्स ए, कोर्स बी (कक्षा नौ-दस तक)
केंद्रीय हिंदी निदेशालय द्वारा निर्मित मूलभूत प्रशासनिक शब्दावली (अंग्रेजी-डोगरी) में डोगरी विशेषज्ञ की सहभागिता
आकाशवाणी नई दिल्ली से वार्ता, बाल कहानी, बाल कविताओं का प्रसारण, राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पत्र-पत्रिकाओं में लेख प्रकाशित एवं प्रस्तुति
सम्मान एवं पुरस्कार: हिमाचल कला संस्कृति भाषा अकादमी शिमला का वर्ष 2012 का पहाड़ी (हिमाचली) साहित्य पुरस्कार, 13 जून, 2017; हिमाचल कल्याण सभा (रजि.) नई दिल्ली द्वारा कवि सम्मेलन में सम्मानित; हिमाचल समाज रजि. नई दिल्ली द्वारा तथा केंद्रीय पंजाबी साहित्य सम्मेलन (रजि.) नई दिल्ली द्वारा सम्मानित; तेजस्विनी सम्मान, 2017 अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस, 08 मार्च, 2017, गहमर वेलफेयर सोसाइटी, गाजीपुर, उत्तर प्रदेश 
संप्रति: दिल्ली विश्वविद्यालय के दयालसिंह सांध्य काॅलेज में प्राध्यापक

Scroll