Pakheru Jaante Hain

Vasant Sakargaye

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
280.00 252 +


  • Year: 2019

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-81-939334-4-2

Vasant Sakargaye

2 फरवरी, 1960 (वसंत पंचमी) को हरसूद, जो अब जलमग्न हो चुका हैजिला खंडवा मध्य प्रदेश में जन्म
एक कविता संग्रह 'निगहबानी में फूलवर्ष 2011 में प्रकाशित
सम्मान : मध्य प्रदेश साहित्य सम्मेलन का वागीश्वरी सम्मान और मध्य प्रदेश साहित्य अकादेमी का दुष्यंत कुमार सम्मान
बाल कविता : ‘धूप की संदूक' केरल राज्य के माध्यमिक शिक्षा के पाठ्यक्रम में शामिल

Scroll