Sine Sitaron Ke Anchhuye Prasang

Sheela Jhunjhunwala

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
200.00 180 + Free Shipping


  • Year: 2013

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 9788170167013

Sheela Jhunjhunwala

श्रीमती शीला झुनझुनवाला
जन्म : सन् 1927 में उत्तर प्रदेश के कानपुर में, स्कूली शिक्षा एस०एस० सेन बालिका विद्यालय में हुई । क्राइस्ट चर्च कॉलेज, कानपुर से बी०ए०, डी०ए०वी० कॉलेज से एम०ए० (अर्थशास्त्र) एवं एल०टी० की उपाधि ती । हिंदी साहित्य सम्मेलन, प्रयाग से 'साहित्य-रत्न' एवं प्रयाग महिला विद्यापीठ से 'विदुषी ऑनर्स' । कानपुर के ही म्यूनिसिपल गर्ल्स कॉलेज में एक वर्ष अर्थशास्त्र का अध्यापन ।
1960 से 1965 तक टाइम्स ऑव इंडिया प्रकाशन सपूह के 'धर्मयुग' साप्ताहिक पत्रिका के महिला पृष्ठों का संपादन किया । दिल्ली में ही सेंट्रल न्यूज एजेसी द्वारा प्रकाशित महिला पत्रिका 'अंगजा' की संपादिका रहीं । तदुपरांत दिल्ली में हिंदुस्तान टाइम्स समूह की पत्रिका 'कादम्बिनी' में संयुक्त संपादक रह चुकने के बाद दैनिक हिंदुस्तान में संयुक्त संपादक, फिर साप्ताहिक हिन्दुस्तान की प्रधान संपादक । अंग्रेजी नें प्रकाशित 'मनी मैटर्स' पत्रिका की कार्यकारी संपादक। दृश्य-जगत् ने अनेक नाटकों एवं फिल्मों में पटकथा-लेखन ।
राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान परिषद से अनेक कृतियाँ प्रकाशित, जिनमें से 'अस्त्र-शस्त्र की कहानी' एवं 'इंदिरा जी की आत्मकथा' विशेष चर्चित । बाल-साहित्य में भी अनेक पुस्तकें प्रकाशित ।
भारत सरकार द्वारा 'पदूमश्री' से अलंकृत तथा अन्य अनेक पुरस्कार प्राप्त, जिनमें प्रमुख हैं-मातृश्री पुरस्कार, लोहिया पुरस्कार, राजस्थान-रत्न रोटरी-रत्न पुरस्कार व हिंदी अकादमी, दिल्ली से बाल-साहित्य कृति पुरस्कार एवं साहित्यकार सम्मान । 
संप्रति : टी०पी० झुनझुनवाला फाउंडेशन को कार्यकारी अध्यक्ष, प्रियदर्शनी की अध्यक्ष एवं स्वर-मंजरी, महिला मंगल, राजस्थान क्लब, राजस्थान रत्नाकर आदि अनेक सामाजिक-सांस्कृतिक संस्थाओं से संबद्ध ।

Scroll